Land Record, Map Statewise in Bhumi Jankari

4.9
(92)

Table of Contents

Bhumi Jankari

प्रत्येक भूमि का विवरण अब ऑनलाइन पोर्टल के माध्यम से देखा जा सकता है। इसके लिए आपको तहसील में जाने और पटवारी से संपर्क करने की जरूरत नहीं है। सरकार ने यह ऑनलाइन पोर्टल शुरू किया है जिसके माध्यम से आप अपनी भूमि से संबंधित सभी प्रकार की जानकारी आसानी से घर बैठे प्राप्त कर सकते हैं। इस लेख के माध्यम से हम आपको राज्यवार Bhumi Jankari 2023 से संबंधित सभी महत्वपूर्ण जानकारी प्रदान करेंगे। नीचे दिए गए हैं कुछ महत्वपूर्ण पहलुओं का संक्षेप में वर्णन:

  • भूमि जानकारी 2023: इसका लाभ, उद्देश्य, और विशेषताएं क्या हैं।
  • भूलेख और भु-नक्शा: भूमि के रिकॉर्ड और नक्शे को कैसे देखें।
  • जमाबंदी: भूमि की जमाबंदी सूची क्या है और इसे कैसे चेक करें।
  • ऑनलाइन भूमि रिकॉर्ड: भूमि संबंधी रिकॉर्ड को ऑनलाइन कैसे देखें।
  • खतौनी नंबर, खेवट नंबर, और खसरा नंबर: इन नंबरों का महत्व और उपयोग क्या है।यदि आप अपनी भूमि से संबंधित किसी भी जानकारी को जानना चाहते हैं, तो आपको अपने राज्य के ऑनलाइन भूमि जानकारी पोर्टल पर जाना होगा। वहां आपको आवश्यक विवरण प्रदान करने के बाद आप अपनी भूमि के रिकॉर्ड और जानकारी को देख सकेंगे। ऑनलाइन पोर्टल आपको अपनी भूमि से संबंधित जानकारी को सुरक्षित और आसानी से प्राप्त करने का माध्यम प्रदान करेगा।

यदि आपको अपने राज्य के ऑनलाइन भूमि जानकारी पोर्टल के बारे में अधिक जानकारी चाहिए, तो आप अपने राज्य के जनसंपर्क केंद्र से संपर्क कर सकते हैं।

Bhoomi Jankari का विवरण:

  1. जमाबंदी/फर्द: जमाबंदी/फर्द एक महत्वपूर्ण विवरण है, जिसमें भूमि के मुख्य तत्वों की जानकारी शामिल होती है। यह जानकारी ओनर (मालिक) के नाम, कल्टीवेटर (कृषि कार्य करने वाले) के नाम, फसल संबंधी जानकारी, खसरा नंबर और खसरा क्षेत्र से संबंधित विवरण शामिल होते हैं।
  2. खसरा नंबर: खसरा नंबर एक प्लॉट नंबर होता है, जो राज्य सरकार द्वारा प्रदान किया जाता है। यह नंबर एक भूमि के खंड को पहचानने के लिए उपयोग होता है।
  3. खाता/खेवाट नंबर: खाता/खेवट नंबर मालिकों को दिया जाता है, जिनके पास विभिन्न खसरा संख्याओं के भूमि के हिस्से होते हैं। इसका उपयोग भूमि के संप्रभुता को प्रबंधित करने के लिए किया जाता है।
  4. खतौनी नंबर: खतौनी नंबर एक सेट ऑफ कल्टीवेटर के लिए प्रदान किया जाता है, जो विभिन्न खसरा संख्याओं की भूमि पर खेती करते हैं। यह नंबर खेती संबंधी विवरणों को पहचानने में मदद करता है।

Key Highlights of Bhoomi Jankari:

Scheme Name: Bhumi Jankari
Initiated by: Government of India
Beneficiaries: Citizens of India
Objective: Providing comprehensive information related to land
Year: 2023

भूमि जानकारी का उद्देश्य

Bhumi Jankari 2023 का उद्देश्य है कि देश के सभी नागरिकों को उनकी भूमि से संबंधित संपूर्ण जानकारी सरलता से प्रदान की जाए। अब नागरिकों को भूमि संबंधी जानकारी प्राप्त करने के लिए पटवार खानों की यात्रा करने की आवश्यकता नहीं होगी। सरकार ने इसके लिए राज्यों के लिए अलग-अलग वेबसाइट सुरक्षित की हैं, जिसके माध्यम से भूमि जानकारी प्राप्त की जा सकती है। इस योजना के माध्यम से समय और पैसे दोनों की बचत होगी और प्रणाली में पारदर्शिता बढ़ेगी।

Land Record के लाभ एवं विशेषताएं

सरकार ने सभी भूमि रिकॉर्ड का डिजिटलीकरण कर दिया है। अब देश के हर नागरिक अपनी भूमि से संबंधित विवरणों को अपने राज्य की आधिकारिक वेबसाइट के माध्यम से देख सकता है। अब नागरिकों को सरकारी कार्यालयों में जाने की जरूरत नहीं होगी। उन्हें केवल अपने राज्य की आधिकारिक वेबसाइट पर जाकर अपनी भूमि की जानकारी, जमाबंदी, भू नक्शा आदि को ऑनलाइन देखने का विकल्प मिलेगा। इससे समय और पैसे दोनों की बचत होगी। सभी भूमि विवरण ऑनलाइन उपलब्ध होने से प्रणाली में पारदर्शिता बढ़ेगी। भूमि से संबंधित जानकारी प्राप्त करने की प्रक्रिया सरकार द्वारा बेहद सरल बनाई गई है, जिससे कोई भी नागरिक आसानी से भूमि विवरण प्राप्त कर सकता है।

आंध्र प्रदेश भूमि से संबंधित जानकारी देखने की प्रक्रिया

  • आंध्र प्रदेश की Bhumi Jankari की आधिकारिक वेबसाइट पर जाने की सर्वप्रथम आवश्यकता होगी।
    Bhoomi Jankari or meebhumi adnagal ap or Banglarbhumi 
  • वहां आपके सामने “Home Page” खुलेगा।
  • होम पेज पर आपको “Search Category” सर्च कैटेगरी का चयन करना होगा। जो इस प्रकार होगी।

Survey Number
Account नंबर
Aadhar नंबर
Name of Graduate
Automation Record

  • इसके बाद, आपको जिला, जोन, गांव, कोड, आदि को दर्ज करना होगा।
  • अब आपको “क्लिक” ऑप्शन पर क्लिक करना होगा।
  • आंध्र प्रदेश भूमि से संबंधित जानकारी आपके कंप्यूटर स्क्रीन पर प्रदर्शित होगी।

आसाम भूमि से संबंधित जानकारी प्राप्त करने की प्रक्रिया

  • सबसे पहले आपको आसाम भूलेख की आधिकारिक वेबसाइट पर जाना होगा।
  • आसाम भूमि से संबंधित जानकारी
  • वहां आपके सामने “Home Page” खुलेगा।
  • होम पेज पर आपको “जमाबंदी” के विकल्प पर क्लिक करना होगा।
  • आसाम भूमि से संबंधित जानकारी
  • इसके बाद, आपके सामने एक नया पेज खुलेगा।
  • इस पेज पर आपको अपना जिला, सर्किल और गांव का चयन करना होगा।
  • अब आपको Captcha Code और दग नंबर दर्ज करना होगा।
  • इसके बाद, आपको “सी जमाबंदी” के विकल्प पर क्लिक करना होगा।
  • संबंधित जानकारी आपकी “Computer Screen” पर प्रदर्शित होगी।

छत्तीसगढ़ भूमि से संबंधित जानकारी प्राप्त करने की प्रक्रिया

  • सबसे पहले आपको छत्तीसगढ़ भूलेख Bhumi Jankari की आधिकारिक वेबसाइट पर जाना होगा।
  • जमाबंदी ऑनलाइन
  • वहां आपके सामने होम पेज खुलेगा।
  • होम पेज पर आपको डिजिटल हस्ताक्षर कृत बी–1/पी–ll आवेदन के विकल्प पर क्लिक करना होगा।
    Bhumi Jankari
    वहां आपके सामने एक नया पेज खुलेगा।
  • स्पेस पर आपको ग्राम चुनने या ग्राम कोड डालने का विकल्प दिखाई देगा।
  • आपको अपनी आवश्यकतानुसार ग्राम का चयन करना होगा या फिर ग्राम कोड नंबर दर्ज करना होगा।
  • इसके बाद आपको खसरा खतौनी रिपोर्ट डाउनलोड करें के विकल्प पर क्लिक करना होगा।
  • वहां आपको अपना नाम, ईमेल आईडी, पता, मोबाइल नंबर डालकर रिपोर्ट लिंक पर क्लिक करना होगा।
  • जैसे ही आप यह जानकारी दर्ज करेंगे, आपके सामने पीडीएफ फाइल डाउनलोड करने का ऑप्शन दिखाई देगा।
  • आपको डाउनलोड के विकल्प पर क्लिक करना होगा।
  • छत्तीसगढ़ भूमि से संबंधित जानकारी आपके डिवाइस में डाउनलोड हो जाएगी।

गोवा भूमि से संबंधित जानकारी प्राप्त करने की प्रक्रिया

  • सबसे पहले आपको गोवा भूलेख Bhumi Jankari की आधिकारिक वेबसाइट पर जाना होगा।
  • वहां आपके सामने होम पेज खुलेगा।
  • गोवा भूमि से संबंधित जानकारीहोम पेज पर आप गांव का लैंड रिकॉर्ड का विवरण देखना चाहते हैं तो आपको फॉर्म I & XIV के विकल्प पर क्लिक करना होगा।
    Bhoomi Jankari
  • यदि आप शहर का लैंड रिकॉर्ड का विवरण देखना चाहते हैं तो आपको फॉर्म D के विकल्प पर क्लिक करना होगा।
  • वहां आपके सामने एक नया पेज खुलेगा।
  • गोवा भूमि से संबंधित जानकारी
  • इस पेज पर आपको अपना तालुका, गांव, सर्वे नंबर, सब डिविजन नंबर, चलता नंबर, पीटी शीट नंबर आदि दर्ज करना होगा।
  • अब आपको ब्यूटी टेस्ट के विकल्प पर क्लिक करना होगा।
  • संबंधित जानकारी आपकी कंप्यूटर स्क्रीन पर होगी।

गुजरात भूमि से संबंधित जानकारी प्राप्त करने की प्रक्रिया

  • सबसे पहले आपको गुजरात भूमि जानकारी (Bhoomi Jankari) की आधिकारिक वेबसाइट पर जाना होगा।
  • वहां आपके सामने होम पेज खुलेगा।
  • गुजरात भूमि से संबंधित जानकारी
  • इसके बाद यदि आप ग्रामीण क्षेत्र के भूलेख देखना चाहते हैं तो आपको “व्यू भूलेख ग्रामीण” के विकल्प पर क्लिक करना होगा और यदि आप शहरी क्षेत्र के भूलेख देखना चाहते हैं तो आपको “व्यू भूलेख शहरी” के विकल्प पर क्लिक करना होगा।
  • इसके बाद आपको खोज करने के श्रेणी का चयन करना होगा।
  • वहां आपके सामने एक नया पेज खुलेगा।
  • इस पेज पर आपको अपना जिला, सर्वे नंबर, वार्ड नंबर, शीट नंबर, मालिक का नाम आदि दर्ज करना होगा।
  • इसके बाद आपको कैप्चा कोड दर्ज करना होगा।
  • फिर आपको गेट डिटेल्स के विकल्प पर क्लिक करना होगा।
  • संबंधित जानकारी आपकी कंप्यूटर स्क्रीन पर दिखाई देगी।

हरियाणा भूमि जानकारी से संबंधित

  • सबसे पहले आपको हरियाणा भूमि जानकारी (Haryana Bhumi Jankari) की आधिकारिक वेबसाइट पर जाना होगा।
  • वहां आपके सामने होम पेज खुलेगा।
  • इसके बाद आपको जमाबंदी नकल के विकल्प पर क्लिक करना होगा।
  • फिर आपको सर्च कैटेगरी का चयन करना होगा, जिसमें निम्नलिखित शामिल होगा।
  • ओनर नेम
    खेवात
    खसरा/सर्वे नंबर
    डेट ऑफ म्यूटेशन
  • इसके बाद आपको अपना जिला, तहसील, गांव, जमाबंदी वर्ष आदि दर्ज करना होगा।
  • इसके बाद आपको सबमिट के विकल्प पर क्लिक करना होगा।
  • संबंधित जानकारी आपकी कंप्यूटर स्क्रीन पर दिखाई देगी।

हिमाचल प्रदेश भूमि से संबंधित जानकारी प्राप्त करने की प्रक्रिया

  • सबसे पहले आपको हिमाचल प्रदेश के भूमि रिकॉर्ड की आधिकारिक वेबसाइट पर जाना होगा।
  • वहां आपके सामने होम पेज खुलेगा।
  • होम पेज पर आपको अपना जिला, तहसील, गांव और जमाबंदी वर्ष का चयन करना होगा।
  • इसके बाद आपको कैप्चा कोड दर्ज करना होगा।
  • फिर आपको “ओके” बटन पर क्लिक करना होगा।
  • जैसे ही आप “ओके” बटन पर क्लिक करेंगे, हिमाचल प्रदेश की भूमि से संबंधित जानकारी कंप्यूटर स्क्रीन पर प्रदर्शित होगी।

झारखंड भूमि से संबंधित जानकारी प्राप्त करने की प्रक्रिया

  • सबसे पहले आपको झारखंड के भूमि रिकॉर्ड की आधिकारिक वेबसाइट पर जाना होगा।
  • वहां आपके सामने होम पेज खुलेगा।
  • इसके बाद आपको “अपना खाता” के विकल्प पर क्लिक करना होगा।
  • फिर आपके सामने एक नया पेज खुलेगा।
  • आपको अपने जिले का चयन करना होगा।
  • इसके बाद आपको अपने ब्लॉक का चयन करना होगा।
  • अब आपके सामने एक नया पेज खुलेगा जिसमें आपको अपना जिला, आंचल, हल्का, किस्म जमीन आदि दर्ज करना होगा।
  • फिर आपको “खोजें” के विकल्प पर क्लिक करना होगा।
  • इसके बाद आपको झारखंड भूमि से संबंधित जानकारी कंप्यूटर स्क्रीन पर प्रदर्शित होगी।

कर्नाटक भूलेख, भू नक्शा, जमाबंदी देखें

  • सबसे पहले आपको कर्नाटक के भूमि रिकॉर्ड की आधिकारिक वेबसाइट पर जाना होगा।
  • कर्नाटक भूमि से संबंधित जानकारी
  • वहां आपके सामने होम पेज खुलेगा।
    होम पेज पर आपको “व्यू RTC एंड MR” के विकल्प पर क्लिक करना होगा।
  • फिर आपके सामने एक नया पेज खुलेगा।
  • वहां आपको अपना जिला, तालुका, होबली, गांव, सर्वे नंबर, मालिक विवरण आदि दर्ज करना होगा।
  • फिर आपको “फेच विवरण” के विकल्प पर क्लिक करना होगा।
  • कर्नाटक की भूमि से संबंधित जानकारी आपकी कंप्यूटर स्क्रीन पर प्रदर्शित होगी।

मध्य प्रदेश भूलेख से संबंधित जानकारी प्राप्त करने की प्रक्रिया

  • सबसे पहले आपको मध्य प्रदेश के भूमि रिकॉर्ड की website MP Bhulekh पर जाना होगा।
  • मध्य प्रदेश भूमि से संबंधित जानकारी
  • वहां आपके सामने होम पेज खुलेगा।
  • उसके बाद आपको एक नक्शा प्रदर्शित होगा।
  • आपको इस नक्शे में से अपने जिले का चयन करना होगा।
  • अब आपको अपना जिला, तहसील, गांव का चयन करना होगा।
  • फिर आपको अपनी संपत्ति, खाता संख्या या खसरा संख्या में से कोई एक जानकारी दर्ज करनी होगी।
  • इसके बाद आपको “विवरण देखें” के विकल्प पर क्लिक करना होगा।
  • संबंधित जानकारी आपकी कंप्यूटर स्क्रीन पर प्रदर्शित होगी।
  • “MP Bhulekh पर भू-रेकॉर्ड और संपत्ति विवरण की जांच कैसे करें”

महाराष्ट्र भूमि से संबंधित जानकारी प्राप्त करने की प्रक्रिया:

  • सबसे पहले आपको महाराष्ट्र भूमि रिकॉर्ड की आधिकारिक वेबसाइट पर जाना होगा।
  • महाराष्ट्र भूमि से संबंधित जानकारी
  • वहां आपके सामने होम पेज खुलेगा।
  • होम पेज पर आपको अपने क्षेत्र का चयन करना होगा।
  • अब आपको भू विकल्प पर क्लिक करना होगा।
  • इसके बाद आपके सामने नया पेज खुलेगा जिसमें आपको 7/12 या 8 A का चयन करना होगा।
  • अब आपको अपना जिला, तहसील, गांव और इत्यादि से संबंधित जानकारी दर्ज करनी होगी।
  • इसके बाद आपको “खोजें” के विकल्प पर क्लिक करना होगा।
  • जैसे ही आप “खोजें” के विकल्प पर क्लिक करेंगे, संबंधित जानकारी आपकी कंप्यूटर स्क्रीन पर दिखाई देगी।

ओडिशा भूमि से संबंधित जानकारी प्राप्त करने की प्रक्रिया:

  • सबसे पहले आपको Bhulekh Odisha or ओडिशा भूमि रिकॉर्ड की आधिकारिक वेबसाइट पर जाना होगा।
  • ओडिशा भूमि रिकॉर्ड
  • वहां आपके सामने होम पेज खुलेगा।
  • होम पेज पर आपको अपना जिला, तहसील, गांव और आर आई सर्किल का चयन करना होगा।
  • इसके बाद आपको खेतान, प्लॉट नंबर या किरायेदार में से किसी एक का चयन करना होगा।
  • इसके बाद आपको संबंधित जानकारी दर्ज करनी होगी।
  • अब आपको अपनी आवश्यकतानुसार “आरओआर फ्रंट पेज” या “आरओआर बैक पेज” के विकल्प पर क्लिक करना होगा।
  • संबंधित जानकारी आपकी कंप्यूटर स्क्रीन पर प्रदर्शित होगी।

पंजाब भूलेख, भू नक्शा, जमाबंदी देखने की प्रक्रिया:

  • सबसे पहले आपको पंजाब भूमि रिकॉर्ड की आधिकारिक वेबसाइट पर जाना होगा।
  • पंजाब भूमि जानकारी
  • वहां आपके सामने होम पेज खुलेगा।
  • इसके बाद आपको होम पेज पर जमाबंदी अवधि, जिला, तहसील, गांव और साल का चयन करना होगा।
  • अब आपको “सेट रीजन” के विकल्प पर क्लिक करना होगा।
  • इसके बाद आपको “जमाबंदी” के विकल्प पर क्लिक करना होगा।
  • अब आपको “सर्च कैटेगरी” का चयन करना होगा।
  • सर्च कैटेगरी निम्नलिखित रूप में होती है:

ओनर नेम वाइज
खेवत नंबर वाइज
खसरा नंबर वाइज
खतौनी नंबर वाइज

  • अब सर्च कैटेगरी के अनुसार संबंधित जानकारी दर्ज करनी होगी।
  • इसके बाद आपको “व्यू रिपोर्ट” के विकल्प पर क्लिक करना होगा।

राजस्थान भूमि से संबंधित जानकारी प्राप्त करने की प्रक्रिया:

  • सबसे पहले, आपको राजस्थान भूमि रिकॉर्ड की आधिकारिक वेबसाइट पर जाना होगा।
  • भूमि जानकारी राजस्थान or Apna Khata Rajasthan 
  • वहां आपके सामने होम पेज खुलेगा।
  • होम पेज पर आपको अपने जिले का चयन करना होगा।
  • इसके बाद, आपको अपनी तहसील का चयन करना होगा।
  • अब आपको अपने गांव का चयन करना होगा।
  • इसके बाद, एक नया पेज खुलेगा।
  • इस पेज पर आपको अपना नाम, पता, और अन्य जानकारी दर्ज करनी होगी।
  • इसके बाद, आपको नकल जारी करने के लिए “विकल्प” सेक्शन में जाकर विकल्प का चयन करना होगा।
  • अब आपको सर्च कैटेगरी के तहत “खाता संख्या”, “खसरा संख्या” या “यूएसएन” का चयन करना होगा।
  • इसके बाद, आपको संबंधित जानकारी को दर्ज करना होगा।
  • अब आपको “सबमिट” के विकल्प पर क्लिक करना होगा।
  • राजस्थान भूमि से संबंधित जानकारी आपकी कंप्यूटर स्क्रीन पर प्रदर्शित होगी।

तमिलनाडु भूमि से संबंधित जानकारी:

  • सबसे पहले, आपको तमिलनाडु भूमि रिकॉर्ड की आधिकारिक वेबसाइट पर जाना होगा।
  • तमिलनाडु भूमि रिकॉर्ड or आप पट्टा चिट्ठा को ऑनलाइन कैसे देख सकते हैं?
  • वहां आपके सामने होम पेज खुलेगा।
  • इसके बाद, आपको “व्यू पत्ता & FMB/चित्त/ TSLR एक्सट्रैक्ट” के विकल्प पर क्लिक करना होगा।
  • भूमि जानकारी
  • अब आपको अपने जिले और क्षेत्र का चयन करना होगा।
  • इसके बाद, आपको “सबमिट” के विकल्प पर क्लिक करना होगा।
  • अब आपको तहसील, गांव, पट्टा, चित्ता और प्रमाणीकरण मूल्य दर्ज करने होंगे।
  • इसके बाद, आपको “सबमिट” के विकल्प पर क्लिक करना होगा।
  • संबंधित जानकारी आपकी कंप्यूटर स्क्रीन पर प्रदर्शित होगी।

तेलंगाना भूमि से संबंधित जानकारी प्राप्त करने की प्रक्रिया:

  • सबसे पहले, आपको तेलंगाना भूमि रिकॉर्ड की आधिकारिक वेबसाइट पर जाना होगा।
  • तेलंगाना भूमि रिकॉर्ड
  • वहां आपके सामने होम पेज खुलेगा।
  • होम पेज पर, आपको “सिटिजन सर्विस सेक्शन” के अंतर्गत “नो योर लैंड स्टेटस” के विकल्प पर क्लिक करना होगा।
    नो योर लैंड स्टेटस
  • अब आपको “रिकॉर्ड ऑफ राइट सेक्शन” के अंतर्गत “लैंड डिटेल सर्च” के विकल्प पर क्लिक करना होगा।
    लैंड डिटेल सर्च
  • अब आपको “सर्च कैटेगरी” का चयन करना होगा, जैसे कि सर्वे नंबर या पट्टादार पासबुक नंबर।
  • इसके बाद, आपको अपने जिले, मंडल, गांव, पट्टादार पासबुक नंबर आदि दर्ज करने होंगे।
  • अब आपको “फेच” के विकल्प पर क्लिक करना होगा।
  • संबंधित जानकारी आपकी कंप्यूटर स्क्रीन पर प्रदर्शित होगी।

उत्तराखंड भूमि से संबंधित जानकारी प्राप्त करने की प्रक्रिया:

  • सबसे पहले, आपको उत्तराखंड भूमि रिकॉर्ड की आधिकारिक वेबसाइट पर जाना होगा।
  • उत्तराखंड भूमि से संबंधित जानकारी
  • वहां आपके सामने होम पेज खुलेगा।
  • इसके बाद, आपको “पब्लिक ROR” के विकल्प पर क्लिक करना होगा।
  • Uttarakhand Land Record
  • अब आपके सामने एक नया पेज खुलेगा।
  • इस पेज पर, आपको अपने जिले, तहसील और गांव का चयन करना होगा।
  • इसके बाद, आपको अपना खसरा/गाटा नंबर दर्ज करना होगा।
  • उत्तराखंड भूमि से संबंधित जानकारी आपकी कंप्यूटर स्क्रीन पर प्रदर्शित होगी।

उत्तर प्रदेश भूमि से संबंधित जानकारी प्राप्त करने की प्रक्रिया:

  • सबसे पहले, आपको उत्तर प्रदेश भूमि रिकॉर्ड की आधिकारिक वेबसाइट पर जाना होगा।
  • उत्तर प्रदेश भूमि से संबंधित जानकारी आप UPbhulekh Portal या bhu naksha up से भी जान सकते हैं।
  • वहां आपके सामने होम पेज खुलेगा।
  • होम पेज पर, आपको “खसरा खतौनी नकल” के विकल्प पर क्लिक करना होगा।
  • इसके बाद, आपके सामने एक नया पेज खुलेगा।
  • इस पेज पर, आपको कैप्चा कोड दर्ज करना होगा।
  • अब आपको “सबमिट” के विकल्प पर क्लिक करना होगा।
  • इसके बाद, आपको अपना जिला, तहसील, गांव, खसरा, खतौनी नंबर और सर्वे नंबर दर्ज करना होगा।
  • अब आपको अपना जनपद और तहसील चुनना होगा।
  • इसके बाद, आपको अपनी जमीन की जानकारी देनी होगी।
  • जमीन की जानकारी आप अपने खसरा संख्या, गाटा संख्या, खाता संख्या, खातेदार के नाम या नामांतरण के माध्यम से दे सकते हैं।
  • आपको इन चार विकल्पों में से किसी एक का चयन करना होगा।
  • इसके बाद, आपको संबंधित जानकारी दर्ज करनी होगी।
  • अब आपको “सबमिट” के विकल्प पर क्लिक करना होगा।
  • संबंधित जानकारी आपकी कंप्यूटर स्क्रीन पर प्रदर्शित होगी।

वेस्ट बंगाल भूमि से संबंधित जानकारी प्राप्त करने की प्रक्रिया:

  • सबसे पहले, आपको वेस्ट बंगाल भूमि रिकॉर्ड की आधिकारिक वेबसाइट पर जाना होगा।
  • Bhumi Jankari
  • वहां आपके सामने होम पेज खुलेगा।
  • इसके बाद, आपको “नो योर प्रॉपर्टी” के विकल्प पर क्लिक करना होगा।
  • वेस्ट बंगाल भूमि रिकॉर्ड
  • अब आपको अपना जिला, ब्लॉक और मौजा का चयन करना होगा।
  • इसके बाद, आपको खोज कैटेगरी का चयन करना होगा।
  • अब आपको सभी प्रकार की जानकारी दर्ज करनी होगी।
  • इसके बाद, आपको कैप्चा कोड दर्ज करने के बाद “व्यू” के विकल्प पर क्लिक करना होगा।
  • संबंधित जानकारी आपकी कंप्यूटर स्क्रीन पर प्रदर्शित होगी।

दिल्ली भूमि से संबंधित जानकारी प्राप्त करने की प्रक्रिया:

  • सबसे पहले, आपको दिल्ली भूमि रिकॉर्ड की आधिकारिक वेबसाइट पर जाना होगा।
  • दिल्ली भूमि जानकारीवहां आपके सामने होम पेज खुलेगा।
  • होम पेज पर, आपको जमाबंदी विवरण के विकल्प पर क्लिक करना होगा।जमाबंदी विवरण
  • इसके बाद, आपके सामने एक सूची खुलेगी।
  • इस सूची में, आपको अपने जिले का चयन करना होगा।
  • अब आपको अपने जिले के सामने दिए गए “व्यू रिकॉर्ड” के विकल्प पर क्लिक करना होगा।
  • इसके बाद, आपको अपने जिले, सब डिविजन, खाता टाइप, गांव और सर्च ऑप्शन का चयन करना होगा।
  • जैसे ही आप यह चयन करेंगे, आपके सामने “दिल्ली भूमि जानकारी” प्रदर्शित होगी।

How useful was this post?

Click on a star to rate it!

Average rating 4.9 / 5. Vote count: 92

No votes so far! Be the first to rate this post.

Share It
"

Leave a Reply